Friday, March 08, 2019

Cyber Security Awareness - Few Suggestions

Following the topic on cyber security awareness, few points and tips, which I also follow:

>.Use browser and search engines which are not storing non required data for its use. I use Duck Duck Go to search instead of Google since last 6 months or so. Difficult to adjust but if you are using chrome, you can configure search engine (settings > manage search engine) and add Duck Duck Go as prefered
>. that reminds, use chrome or if possible firefox focus, this browser does not store your details and its easy to clean cache and history using 1 click
>.chrome is also Google :) so it may still store some data but its okay as long as you are clearing cache and history regularly, specially after any monetory transaction
> do not store data for auto-fill for any or all sites, keep it to minimal and try to remember more
> always use secure sites for payment (bank/CC), see "https" on URL and "lock" icon if on chrome
>. you may use social media, but do not post too much personal posts/pics, remember whatever goes on internet remains forever, be very careful and sensetive, especially for pics/data of kids/minors.
>. do not accept any friend request on social media just because he is in friendlist of one of your mutual friends, many people just keep adding strangers to increase their list
>. keep vigil on what your child is watching, recent example shows, even shows and videos specially made for kids are hacked and inserted with nonsense stuff
>. no need to click and see/save every link/image/video sent by someone unless you really know the person or think its important
>. i have turned off media auto download in whatsapp, which means if i think i need that image or video, i click and it downloads
>.1 comment, not related to security is forwards, please do not forward any message/content, unless you are sure of its authenticity, nowadays, its very easy to make a quick search and multiple fake buster sites will help you to find it out
make sure to keep group and that person also aware of same thing.
> do not spread rumors, or gov/army related sensetive stuff on social media (even if you know they are true), if gov wants you to know it they will share.

Saturday, February 09, 2019

इसा मसीह !!!!





Source: From Quora

ऐसे कौनसी इतिहासिक तसवीरें हैं जो किसी ने नहीं देखीं?



ताजमहल का आकाशीय दृश्य......

Thursday, November 15, 2018

Indian National Army and Veer Subhash Chandra Bose


Below are some of memorabilia in the name of this great leader and India's freedom Fighter Subhash Chandra Bose


























Tuesday, November 06, 2018

Indian History




Listen what is the importance of school books and our teachers to help us know and keep our history as real as possible.
Next generations and even us should be aware of our history to feel proud of our country 

Jai Hind. Jai Bharat


Wednesday, July 04, 2018

सोच में ताकत और चमक होनी चाहिए



Forwarded message on whatsapp but very apt and thought provoking

जैसे जैसे मेरी उम्र में वृद्धि होती गई, मुझे समझ आती गई कि अगर मैं Rs.3000 की घड़ी पहनू या Rs.30000 की दोनों समय एक जैसा ही बताएंगी ..!
.
मेरे पास Rs.3000 का बैग हो या Rs.30000 का, इसके अंदर के सामान मे कोई परिवर्तन नहीं होंगा। !

मैं 300 गज के मकान में रहूं या 3000 गज के मकान में, तन्हाई का एहसास एक जैसा ही होगा।!

आख़ीर मे मुझे यह भी पता चला कि यदि मैं बिजनेस क्लास में यात्रा करू या इक्नामी क्लास, मे अपनी मंजिल पर उसी नियत समय पर ही पहुँचूँगा।!

इस लिए _ अपने बच्चों को अमीर होने के लिए प्रोत्साहित मत करो बल्कि उन्हें यह सिखाओ कि वे खुश कैसे रह सकते हैं और जब बड़े हों, तो चीजों के महत्व को देखें उसकी कीमत को नहीं _ .... ..

फ्रांस के एक वाणिज्य मंत्री का कहना था

 ब्रांडेड चीजें व्यापारिक दुनिया का सबसे बड़ा झूठ होती हैं जिनका असल उद्देश्य तो अमीरों से पैसा निकालना होता है लेकिन गरीब इससे बहुत ज्यादा प्रभावित होते हैं।

क्या यह आवश्यक है कि मैं Iphone लेकर चलूं फिरू ताकि लोग मुझे बुद्धिमान और समझदार मानें?

क्या यह आवश्यक है कि मैं रोजाना Mac या Kfc में खाऊँ ताकि लोग यह न समझें कि मैं कंजूस हूँ?

क्या यह आवश्यक है कि मैं प्रतिदिन दोस्तों के साथ उठक बैठक Downtown Cafe पर जाकर लगाया करूँ ताकि लोग यह समझें कि मैं एक रईस परिवार से हूँ?

क्या यह आवश्यक है कि मैं Gucci, Lacoste, Adidas या Nike के कपड़े पहनूं ताकि जेंटलमैन कहलाया जाऊँ?

क्या यह आवश्यक है कि मैं अपनी हर बात में दो चार अंग्रेजी शब्द शामिल करूँ ताकि सभ्य कहलाऊं?

क्या यह आवश्यक है कि मैं Adele या Rihanna को सुनूँ ताकि साबित कर सकूँ कि मैं विकसित हो चुका हूँ?

नहीं यार !!!

मेरे कपड़े तो आम दुकानों से खरीदे हुए होते हैं,

दोस्तों के साथ किसी ढाबे पर भी बैठ जाता हूँ,

भुख लगे तो किसी ठेले से  ले कर खाने मे भी कोई अपमान नहीं समझता,
अपनी सीधी सादी भाषा मे बोलता हूँ। चाहूँ तो वह सब कर सकता हूँ जो ऊपर लिखा है
लेकिन ....

मैंने ऐसे लोग भी देखे हैं जो मेरी Adidas से खरीदी गई एक कमीज की कीमत में पूरे सप्ताह भर का राशन ले सकते हैं।

मैंने ऐसे परिवार भी देखे हैं जो मेरे एक Mac बर्गर की कीमत में सारे घर का खाना बना सकते हैं।

बस मैंने यहाँ यह रहस्य पाया है कि पैसा ही सब कुछ नहीं है जो लोग किसी की बाहरी हालत से उसकी कीमत लगाते हैं वह तुरंत अपना इलाज करवाएं।
मानव मूल की असली कीमत उसकी नैतिकता, व्यवहार, मेलजोल का तरीका, सुल्ह-रहमी, सहानुभूति और भाईचारा है। ना कि उसकी मोजुदा शक्ल और सूरत ... !!!

सूर्यास्त के समय एक बार सूर्य ने सबसे पूछा, मेरी अनुपस्थिति मे मेरी जगह कौन कार्य करेगा?
समस्त विश्व मे सन्नाटा छा गया। किसी के पास कोई उत्तर नहीं था। तभी  कोने से एक आवाज आई।
दीपक ने कहा "मै हूं  ना" 
मै अपना पूरा  प्रयास  करुंगा ।
आपकी सोच  में ताकत और चमक होनी चाहिए। छोटा -बड़ा होने से फर्क  नहीं पड़ता,सोच  बड़ी  होनी चाहिए। मन के भीतर  एक दीप जलाएं और सदा मुस्कुराते रहें।।

Sunday, June 10, 2018

Population or duty??



I had several debates and discussions with my friends and relatives on claims that all the problems in India are due to population.

Here is my list of items not impacted just because India has too much population: 
  • Throwing rubbish in dustbins
  • Following the traffic signals (for vehicles)
  • Following traffic rules in general
  • Cleaning of the public places by Govt
  • Repairs and maintenance of roads
  • Giving green signal to builders to erect building on any available land they find
  • Spitting anything anywhere